Friday, August 22, 2008

सॉरी बिप्स .. हार गए विजेंद्र

विपाशा बासु का छः फुट के विजेंद्र के साथ डेट पर जाने का ख्वाब अधूरा रह गया । उनका सपना तोडा हे खानदानी boxer एमिलियो कोरिया ने । वे क्यूबा के हैं और जबरदस्त मुक्केबाज़ हैं । हमारे विजुभैया को कासे के साथ ही संतोष करना पड़ेगा । वैसे इस बांग्ला ब्यूटी की कोई गलती नहीं उन्होंने प्रोतसाहित करने में कोई कोर कसर बाकी नहीं रखी ।तमाम सरकारों ने जहाँ धन वर्षा कर दी वहीं बीप्स ने डेट पर जाने का प्रस्ताव कर दिया । देश भिवानी के इस handsom मुक्केबाज़ और बॉलीवुड की हॉट ऐक्टर विपाशा की मुलाकात से तो महरूम रहा ही गोल्ड से भी चूक गया .वरना आज हमारे पास दो गोल्ड होते । सॉरी दोस्तों.. क्रिकेट -बॉलीवुड का मेल तो बहुत देखा लेकिन बोक्सिंग-बॉलीवुड का यह बेमिसाल जोड़ नहीं देख पाये विपाशा का प्रयास ज़रूर सराहा जाना चाहिए । बहरहाल विजेंद्र को बधाई क्योंकि छोटे शहरों से क्या खूब झोला उठाया हे उन्होंने ।

6 comments:

ramkumar singh said...

madam kuchh to socho, yaha bhi naareewadi ho gayi aap. prayaas vijendra ka saraha jaana chaahiye na ki bips ka. bips ne jism dikhaane ke alawa kiya hi kya hai?

neelima sukhija arora said...

वर्षा जी, विजेन्द्र के हारने का दुख तो हम सभी को है लेकिन बिपाशा के दुख का अंदाजा तो हम भी नहीं लगा सकते। :-)

varsha said...

nariwadi nahin bhai jiske pas jo hoga vahi to dega.vijendra ko sar jhukakar pranam.well aap dono ka dhanyawad.

महामंत्री-तस्लीम said...

शायद इसे ही हार की जीत कहते हैं।

Anil said...

गीता का पहला पाठ है - कर्म करो, फल की चिंता न करो. मुक्के मारो, मैडल की चिंता न करो.

Udan Tashtari said...

जीत की बहुत बधाई एवं शुभकामनाऐं!